सुवेंदु अधिकारी ने ममता कैबिनेट से दिया इस्तीफा
Friday, 27 November 2020 16:56

  • Print
  • Email

कोलकाता: पश्चिम बंगाल के सिंचाई और परिवहन मंत्री सुवेंदु अधिकारी ने शुक्रवार को ममता बनर्जी के नेतृत्व वाले राज्य मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है। कुछ दिनों से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से नाराज चल रहे सुवेंदु अधिकारी को एक दिन पहले ही हुगली रिवर ब्रिज कमिश्नर्स (एचआरबीसी) के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने ट्विटर पर लिखा कि मंत्री के रूप में अधिकारी का इस्तीफा पत्र मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भेजा गया है और इसकी एक प्रति राज्यपाल के कार्यालय को भी भेजी गई है।

धनखड़ ने लिखा, "आज दोपहर 1:05 बजे मंत्री के तौर पर श्री सुवेंदु अधिकारी का इस्तीफा पत्र माननीय मुख्यमंत्री को संबोधित किया गया है। यह मुद्दा संवैधानिक दृष्टिकोण से संबोधित किया जाएगा।"

राज्य के परिवहन विभाग ने गुरुवार को एक परिपत्र (सकरुलर) जारी कर कहा कि अधिकारी की जगह यह जिम्मेदारी कोलकाता से सटे हुगली जिले के श्रीरामपुर से तृणमूल कांग्रेस के सांसद कल्याण बनर्जी को सौंपी गई है।

राज्य सरकार के परिपत्र में लिखा गया है, हुगली रिवर ब्रिज अधिनियम, 1969 की धारा-3 की उप-धारा (3) द्वारा प्रदत्त शक्ति के साथ राज्यपाल ने माननीय सांसद कल्याण बनर्जी को एचआरबीसी का तत्काल प्रभाव से और अगले आदेश तक अध्यक्ष नियुक्त किया है।

पार्टी के अंदरूनी सूत्रों ने कहा कि अधिकारी ने कुछ समय से तृणमूल सुप्रीमो के साथ दूरी बना ली थी। पश्चिम बंगाल के चुनाव कुछ ही महीने दूर हैं और ऐसे समय पर उन्होंने इस सप्ताह एक अराजनैतिक बैनर के तहत पूर्वी मिदनापुर के खेजुरी में एक विशाल रैली भी निकाली थी।

दरअसल बीते कुछ महीनों में पार्टी नेताओं से दूरी रखने और मंत्रिमंडल की बैठकों में भी हिस्सा नहीं लेने पर ऐसी अटकलें तेज हो गई थीं कि वह पार्टी में रहेंगे या नहीं। बंगाल चुनाव से पहले उन्होंने मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है और अब यह सवाल है कि वह पार्टी की सदस्यता से भी जल्द इस्तीफा देंगे या नहीं।

सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और अधिकारी, जो कुछ समय से पार्टी से दूरी बनाए हुए हैं, उनके बीच बातचीत सोमवार को अनिर्णायक रही। वयोवृद्ध तृणमूल सांसद सौगता रॉय, जिन्हें अधिकारी के साथ बातचीत करने का काम सौंपा गया है, उन्होंने सोमवार शाम को उत्तरी कोलकाता के एक स्थान पर मंत्री से मुलाकात की। दोनों ने लगभग दो घंटे तक चर्चा की। एक सप्ताह में दोनों तृणमूल नेताओं के बीच यह दूसरी बैठक रही है।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, "सुवेंदु अधिकारी ने मंत्री के तौर पर इस्तीफा दे दिया है, लेकिन उन्होंने तृणमूल कांग्रेस से इस्तीफा नहीं दिया है। उन्होंने अभी तक अपना राजनीतिक रुख को स्पष्ट नहीं किया है। हम हर गतिविधि पर नजर रख रहे हैं। अगर वह भाजपा में शामिल होने का फैसला करते हैं तो उनका स्वागत किया जाएगा।"

घोष ने कहा, "हम अपने तरीके से राजनीतिक कार्यक्रमों को अंजाम दे रहे हैं और अगर उनके (सुवेंदु अधिकारी) जैसे नेता हमसे जुड़ते हैं तो आने वाले दिनों में इसका फायदा जरूर मिलेगा।"

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss