भाजपा के 'लोकतंत्र बचाओ' अभियान के पहले कोलकाता पुलिस ने मंच गिराया
Friday, 04 September 2020 16:30

  • Print
  • Email

कोलकाता: पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24-परगना जिले में राज्य सरकार के एक कार्यालय के सामने अस्थायी पोडियम (मंच) बनाने के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यह घटना गुरुवार रात की है। स्थानीय भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ता प्रतिबंधित क्षेत्र में सब-डिविजनल कार्यालय के बाहर अपनी विरोध रैली के लिए एक मंच बनाने में व्यस्त थे। भाजपा की राज्य इकाई ममता बनर्जी की अगुवाई वाली राज्य सरकार में बढ़ते अत्याचार के विरोध में शुक्रवार को 'लोकतंत्र बचाओ' अभियान आयोजित करने वाली थी।

हालांकि सूत्रों के अनुसार, स्थानीय पुलिस ने गुरुवार देर रात वहां जाने के पश्चात कोविड-19 महामारी में दिशानिदेशरें का उल्लंघन करने के आधार पर मंच को गिरा दिया। ऐसे में भाजपा की राज्य ईकाई शुक्रवार को जिलों के हर ब्लॉक में धरना प्रदर्शन और विरोध प्रदर्शन कर रही है।

प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष रितेश तिवारी ने गुरुवार को कहा था, "सभी जिलों में विरोध कार्यक्रम सुबह 11 बजे शुरू होगा। कोलकाता में, यह दोपहर 12 बजे से शुरू होगा। ऐसी कई घटनाएं हुई हैं, जहां ममता बनर्जी की पुलिस हमारे कार्यकतार्ओं को प्रदर्शनों में भाग लेने से रोकने की कोशिश कर रही है। उन्होंने जिलों में हमारे कुछ सेट अप को भी ध्वस्त कर दिया है।"

--आईएएनएस

एमएनएस-एसकेपी

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.