Print this page

ताजनगरी में कोरोना के 111 नए मामले
Tuesday, 15 September 2020 10:00

आगरा: आगरा क्षेत्र में कोरोनावायरस के लगातार बढ़ते मामले प्रशासन के लिए अलर्ट लेकर आए हैं, जहां जनजीवन सामान्य स्थिति में लौटने के लिए संघर्ष कर रहा है, वहीं ताजनगरी में इस बीमारी के 111 नए मामले सामने आए हैं। रेल परिवहन बहाल हो गया है और 21 सितंबर से ताजमहल और आगरा किले में पर्यटकों के स्वागत के लिए तैयारियां जोरों पर हैं।

जहां आगरा में 111 नए मामले दर्ज हुए, वहीं मथुरा में 66, फिरोजाबाद में 71, मैनपुरी में 42, एटा में 9 और कासगंज में 17 नए ममाले सामने आए।

मथुरा में कोरोना से दो मौतें होने की खबर है, वहीं आगरा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 115 हो गई है।

ताजनगरी में कोरोनावायरस के कुल मामलों की संख्या अब 4,153 है। अब तक 3,223 लोग ठीक हो चुके हैं और सक्रिय मामलों की संख्या 815 है।

कई मरीजों और पीड़ितों के परिवार के सदस्य अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति की कमी के बारे में शिकायत करते रहे हैं। हालांकि जिला प्रशासन का यह कहना जारी है कि स्थिति नियंत्रण में है, लेकिन आगरा के अस्पताल ऑक्सीजन की आपूर्ति की कमी से जूझते मालूम पड़ रहे हैं।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के आगरा ब्रांच के सचिव डॉ. संजय चतुर्वेदी ने कहा, "पिछले कुछ दिनों से यह कमी बनी हुई है। हमने अड़चनों को समझने और मुद्दों को सुलझाने के लिए आपूर्तिकर्ताओं की बैठक बुलाई। हमने आपूर्तिकर्ताओं -- अलीगढ़ की राधिका और मथुरा के यूनिवर्सल से कम से कम अगले कुछ दिनों तक आपूर्ति बनाए रखने और कुछ दिनों के लिए औद्योगिक आपूर्ति बंद करने की अपील की है जब तक कि स्थिति में सुधार नहीं होता है। अमल खेड़ा में एक नया संयंत्र, सम्बाहावी आ रहा है। आईएमए आगरा में ऑक्सीजन की कुल आपूर्ति और उपलब्धता का रिकॉर्ड रख रहा है।"

इस बीच, आगरा सिविल कोर्ट परिसर को एक दर्जन कर्मचारियों के कोरोना से संक्रमित होने के बाद दो दिनों के लिए सील कर दिया गया है। एस एन मेडिकल कॉलेज के दो डॉक्टर भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए और उन्हें आइसोलेट कर दिया गया है। अब तक 1,52,087 नमूनों का परीक्षण किया गया है।

--आईएएनएस

वीएवी-एसकेपी