कोरोना के बढ़ते संक्रमण की भेंट चढ़ा 'हुनर हाट', दो दिन पहले हुआ बंद
Friday, 20 November 2020 20:47

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा दिल्ली के पीतमपुरा में आयोजित हुनर हाट कोरोना के बढ़ते संक्रमण की भेंट चढ़ गया। 11 नवंबर से आयोजित हुआ ये हुनर हाट 22 नवंबर तक चलना था। लेकिन दिल्ली में बढ़ते संक्रमण के चलते, एहतियातन इसे दो दिन पहले ही बंद करना पड़ा। इसकी वजह से हुनर हाट में देशभर के विभिन्न हिस्सों से आए दुकानदार मायूस हैं। इस 'हुनर हाट' में विभिन्न राज्यों से मिट्टी एवं मेटल से बने खिलौने, असम के ड्राई फ्लावर्स, आंध्र प्रदेश के पोचमपल्ली इक्कट, बिहार की मधुबनी पेंटिंग्स, दिल्ली की कैलीग्राफी पेंटिंग, गोवा से हैंड ब्लॉक प्रिंट, गुजरात से अजरख, जम्मू-कश्मीर से पश्मीना शाल, झारखण्ड से तुसार सिल्क और बेंत-बांस से निर्मित उत्पाद, कर्नाटक से लकड़ी के खिलौने, मध्यप्रदेश से हर्बल उत्पाद, बाघ प्रिंट, बटिक, महाराष्ट्र से बांस से निर्मित उत्पाद, मणिपुर से हस्तनिर्मित खिलौने, उत्तर प्रदेश से लकड़ी एवं कांच के खिलौने, आयरन निर्मित खिलौने आदि प्रदर्शनी एवं बिक्री के लिए उपलब्ध थे।

मोहम्मद सलीम इससे पहले भी हुनर हाट में शामिल हुए थे और इस साल भी उन्होंने अपनी दुकान लगाई थी। उन्होंने आईएएनएस को बताया, "कोरोना के दौरान हमारा व्यापार पूरी तरह से बंद था। 7 महीने बाद एक उम्मीद जगी थी, हुनर हाट से की व्यापार अच्छा होगा। शुरूआत में हम लोगों की अच्छी बिक्री हुई, लेकिन कोरोना के मामले बढ़ने के चलते इसे दो दिन पहले ही बंद कर दिया गया।"

"शनिवार और रविवार पर लोगों की अच्छी भीड़ होती है, ऐसे में बंद होने से हमारे व्यापार को काफी नुकसान हुआ है।"

मार्बल प्रोडक्ट का व्यापार करने वाले शाहिद ने आईएनएस को बताया, "11 नवंबर से हम लोगों का व्यापार अच्छा रहा है। सरकार ने कोई फैसला लिया है वो अच्छा ही है, लेकिन व्यापार के नजरिये से देखें तो नुकसान है। विकेंड्स पर हम लोगों का व्यापार अच्छा रहता है। शनिवार और रविवार को होने वाले व्यापार का नुकसान हुआ है।"

जानकारी के अनुसार दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं। एहतियातन हुनर हाट को बंद करना पड़ा है। हालांकि हुनर हाट में कोरोना की वजह से लगातार सैनिटाइजेशन किया जा रहा था। वहीं मास्क लगाना भी जरूरी था।

दिल्ली सरकार के मुताबिक दिल्ली में किसी भी शादी समारोह और अन्य समारोह में 50 से ज्यादा लोग इकट्ठे नहीं हो सकते हैं। शादी समारोह में अभी तक इकट्ठा होने वाले लोगों की संख्या 200 थी, लेकिन दिल्ली में बढ़ते कोरोना मामलों के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने यह संख्या घटाकर 50 कर दी है।

दरअसल केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने 11 नवंबर को हुनर हाट का उद्घाटन किया था। पीतमपुरा के दिल्ली हाट में आयोजित इस हुनर हाट के उद्घाटन समारोह में केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू भी उपस्थित थे। नकवी ने इस दौरान कहा था कि, "दस्तकारों का शानदार स्वदेशी उत्पाद ही 'हुनर हाट' की 'लोकल शान' और 'ग्लोबल पहचान' है।"

--आईएएनएस

एमएसके/एएनएम

 

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss