दिल्ली की हवा में सुधार, मध्यम स्तर पर पहुंची
Wednesday, 18 November 2020 18:09

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: दिल्ली के वायु प्रदूषण में बुधवार को भारी गिरावट दर्ज की गई और तेज हवाओं और बारिश ने प्रमुख प्रदूषकों को 'खराब' से 'मध्यम' श्रेणी में लाने में मदद की। हालांकि शनिवार से प्रदूषण फिर से बढ़ने की संभावना जताई गई है। सफर के पूवार्नुमानों के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी के अधिकांश क्षेत्रों, पूसा रोड, लोधी रोड, आईआईटी-दिल्ली, इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा (टर्मिनल-3) और आयानगर में बुधवार सुबह वायु की गुणवत्ता खराब श्रेणी में दर्ज की गई, जो क्रमश: 111, 121, 135, 139, 173 और 156 एक्यूआई रही।

दिल्ली विश्वविद्यालय क्षेत्र में 97 की एक्यूआई के साथ सबसे साफ हवा दर्ज की गई।

पश्चिमी विक्षोभ (डब्ल्यूडी) के प्रभाव के कारण दिल्लीवासियों ने बुधवार को प्रदूषण में राहत अनुभव किया। पिछले सप्ताह की तुलना में हवा की गुणवत्ता बेहतर थी।

हालांकि पर्यावरण पर नजर रखने वाले निकायों का कहना है कि दिल्ली की वायु गुणवत्ता में महत्वपूर्ण सुधार अल्पकालिक होगा।

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अधिकारियों ने एक्यूआई के जल्द ही खराब होने की संभावना जताई।

उन्होंने कहा, "एक्यूआई कल खराब श्रेणी से मध्यम श्रेणी में दर्ज की जा सकती है।"

उन्होंने आगे कहा, "एक्यूआई के 20 नवंबर, 21 नवंबर को बहुत खराब श्रेणी के निचले स्तर तक और खराब के ऊपरी स्तर तक होने का अनुमान है।"

उन्होंने कहा, "दिल्ली की हवा में पीएम 2.5 में पराली जलाने की हिस्सेदारी मामूली और 8 फीसदी बढ़ने की संभावना है।"

--आईएएनएस

एमएनएस/एसजीके

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss