मिजोरम के लिए विकास परियोजनाएं दोगुनी की : शाह
Saturday, 05 October 2019 21:04

  • Print
  • Email

आइजोल: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने यहां शनिवार को कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार की तुलना में मिजोरम के विकास के लिए परियोजनाएं दोगुनी कर दी है। मिजोरम के दौरे पर आए शाह ने शनिवार को उत्तर पूर्वी परिषद (एनईसी) द्वारा आयोजित नॉर्थ ईस्ट हैंडलूम एंड हैंडीक्राफ्ट प्रदर्शनी का उद्घाटन किया।

इस दौरान शाह ने कहा कि मिजोरम के आत्मनिर्भर बनने के लिए बांस जैसे वन संसाधन उपयोगी साबित हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि हस्तशिल्प और इसकी बेहतर तरीके से मार्केटिग करके स्थानीय लोगों के साथ ही राज्य की अर्थव्यवस्था को भी लाभ मिल सकता है।

केंद्रीय गृहमंत्री के रूप में यहां अपने पहले दौरे पर पहुंचे शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्‍जवला योजना के तहत मिजोरम में 23 हजार लोगों को रसोई गैस (एलपीजी) कनेक्शन मिले हैं।

इस मौके पर पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मामलों के मंत्री जितेंद्र सिंह ने विभिन्न स्थानीय समूहों से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि म्यांमार के साथ भूमि सीमा समझौते पर हस्ताक्षर किए गए हैं और अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण परियोजना जल्द ही शुरू की जाएगी।

सिंह ने कहा कि केंद्र ने मिजोरम के लिए 300 करोड़ रुपये की 43 परियोजनाओं को मंजूरी दी है।

समारोह को संबोधित करते हुए राज्य के मुख्यमंत्री जोरमथांगा ने कहा कि केंद्र से उचित समर्थन और सहायता के बलबूते मिजोरम देश में सबसे अधिक सकल राज्य घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) वाला राज्य बन सकता है।

इस दौरान असम के वित्तमंत्री हिमंत बिस्व सरमा भी गृहमंत्री शाह के साथ मौजूद रहे।

शाह ने नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) सहित विभिन्न मुद्दों पर राज्यपाल जगदीश मुखी, मुख्यमंत्री जोरमथांगा, शीर्ष अधिकारियों और एनजीओ समन्वय समिति (एनसीसी) के साथ बैठक भी की।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.