सूरिया, रुहान, इशान नेशनल कार्टिग चैम्पियनशिप जीतने के लिए तैयार
Thursday, 29 October 2020 16:07

  • Print
  • Email

बेंगलुरू: कोयम्बटूर के सूरिया वेराथन, बेंगलुरू के अर्जुन नायर और चेन्नई निर्मल उमाशंकर इस सप्ताहांत बेंगलुरू में मेको एफएमएससीआई नेशनल कार्टिग चैम्पियनशिप (एक्स30 क्लासेज) के अंतिम दो राउंड्स में शानदार भिड़ंत के लिए तैयार हैं। सीनियर क्लास में सूरिया ने लीड ले रखी है। बीते शनिवार और रविवार को आयोजित शुरुआती दो राउंड्स के बाद उनके खाते में 70 अंक हैं। राउंड 1 में सूरिया ने चार में से तीन रेसें जीती हैं और राउंड 2 में सूरिया ने चार में से दो में जीत हासिल की थी। ऐसे में वह इस साल की चैम्पियनशिप जीतने के क्रम में सबसे मजबूती के साथ खड़े हैं।

यह चैम्पियनशिप मार्च मे कोरोनावायरस के कारण लगे लॉकडाउन के बाद देश में आयोजित होने वाली पहली राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता है। इस चैम्पियनशिप में सभी तरह की सैनिटाइजिंग और सोशल डिस्टेंसिंग नार्म्स का पालन हो रहा है। यह सब युवा रेसरों और चैम्पियनशिप से जुड़े अन्य लोगों को कोरोना जैसी महामारी से दूर रखने के लिए किया जा रहा है।

दूसरी ओर, अर्जुन नायर ने राउंड 1 में दो मौकों पर दूसरा स्थान हासिल किया था और राउंड 2 में दो मौकों पर पहले स्थान पर रहे थे। उनके खाते में 55 अंक हैं। वह तथा निर्मल उमाशंकर (51 अंक) को अगर सूरिया को पहले स्थान से बेदखल करना है तो फिर उन्हें अंतिम दो राउंड में पूरी तरह उलटफेर करने वाला प्रदर्शन करना होगा।

जूनियर क्लास में हालांकि ऐसी स्थिति नहीं है। यहां बेंगलुरू के रुहान आल्वा 80 अकों के साथ बिना किसी संदेह के चैम्पियन बनते दिख रहे हैं। रुहान ने दो राउंड्स में आयोजित सबी आठ रेसों में पहला स्थान हासिल किया था।

उनके शहर के रोहान मंदेश के खाते में 56 अंक हैं और वही रुहान के सबसे निकटतम प्रतिद्वंद्वी हैं। अब अगर रोहान को चैम्पियन बनना है तो उन्हें अंतिम दो राउंड्स में हैरान करने वाला प्रदर्शन करना होगा।

कैडेट क्लास में भी बेंगलुरू के ही इशान मदेश अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी पुणे के साई शिवा माकेश से नौ अंकों की लीड बनाए हुए हैं। इशान ने राउंड 1 में चारों रेस जीती थी लेकिन इस राउंड की शुरुआत में उन्होंने निराश किया था। इस राउंड की पहली रेस में इशान डीएनएफ थे और दूसरी रेस में छठे स्थान पर आए थे। हालांकि इसके बाद उन्होंने प्रदर्शन सुधारा था।

--आईएएनएस

जेएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss