Print this page

होण्डा ने हासिल की 800वीं एफआईएम वर्ल्ड चैम्पियनशिप ग्रैण्ड प्रिक्स जीत
Monday, 26 October 2020 21:08

नई दिल्ली: होण्डा के मोटो 3 राइडर जॉमे मासिया ने स्पेन के मोटरलैण्ड एरॉगोन में आयोजित 2020 वर्ल्ड चैम्पियनशिप ग्रैण्ड प्रिक्स के 12वें राउण्ड में मोटो 3 क्लास में जीत हासिल की है। 1961 में स्पेनिश ग्रां प्री के 125 सीसी क्लास में वल्र्ड गै्रण्ड प्रिक्स रेस के साथ शुरूआत करने के बाद होण्डा ने अब तक 800वीं ग्रैण्ड प्रिक्स जीत हासिल की है। 1954 में होण्डा के संस्थापक सोइचिरो होण्डा ने दुनिया में सर्वश्रेष्ठ बनने के सपने के साथ आयल ऑफ मैन टीटी के साथ प्रीमियम मोटर स्पोर्ट्स इवेन्ट में प्रवेश का ऐलान किया। रेसिंग मशीन के विकास के पांच साल बाद, होण्डा आयल ऑफ मेन टीटी रेस में प्रवेश करने वाली पहली जापानी निर्माता बन गई। इसके बाद 1960 में होण्डा ने एफआईएम रोड रेसिंग वल्र्ड चैम्पियनशिप के 125 सीसी और 250 सीसी क्लास में प्रतियोगिता शुरू की।

1961 में टोम फिलिस ने सीजन-ओपनिंग स्पैनिश ग्रैण्ड प्रिक्स में जीत के साथ होण्डा को पहली जीत दिलाई। होण्डा ने 1962 में 50 सीसी और 350सीसी में तथा 1966 में 500 सीसी में प्रवेश किया और 1966 में सभी पांच क्लासेज में चैम्पियनशिप जीती। 1967 सीजन के अंत तक, जब होण्डा ने अपनी फैक्टरी रेसिंग गतिविधियों को रोक दिया था और 11 साल बाद दोबारा शुरूआत की, उस समय यह 138 ग्रैण्ड प्रिक्स जीतें हासिल कर चुकी थी।

1979 में होण्डा 500 सीसी क्लास में एफआईएम रोड रेसिंग वल्र्ड चैम्पियनशिप रेसिंग में दोबारा लौटी। तीन साल बाद 1982 में अमेरिकी राइडर फ्रेडी स्पेंसर ने अपनी होण्डा एनएस 500 पर बेल्जियम में 7वां राउण्ड जीता और वल्र्ड ग्रैण्ड प्रिक्स रेसिंग में लौटने के बाद पहली जीत दिलाई। होण्डा ने इसके बाद 125 सीसी और 250 सीसी क्लास में ग्रैण्ड प्रिक्स रेस में भी जीत हासिल की।

परिणामस्वरूप होण्डा ने 2001 में 500वीं जीत हासिल की, जब इटली के राइडर वैलेन्टिनो रोस्सी ने सीजन के पहले जापान ग्रैण्ड प्रिक्स में 500 सीसी क्लास में जीत हासिल की। 2015 में मार्क मार्कीज ने अपनी होण्डा त्ब्213ट पर होण्डा को 700 वीं ग्रैण्ड प्रिक्स जीत दिलाई, जब इंडियानापोलिस मोटर स्पीडवे, इंडियाना, यूएसए में मोटो जीपी क्लास के 10वें राउण्ड में उन्होंने चैकर्ड फ्लैग पर कब्जा कर लिया।

होण्डा मोटर कंपनी लिमिटेड के अध्यक्ष, सीईओ एवं प्रतिनिधि निदेशक ताकाहीरो हाचिगो ने कहा, "मुझे गर्व है कि होण्डा ने 800वीं एफआईएम वल्र्ड चैम्पियनशिप ग्रैण्ड प्रिक्स जीत हासिल कर ली है। मैं दुनिया भर होण्डा के प्रशंसकों के प्रति आभारी हूं, जिन्होंने हमेशा से होण्डा की रेसिंग गतिविधियों को अपना पूरा समर्थन दिया है। मैं उन सभी राइडरों के प्रति भी आभारी हूं, जिन्होंने 1959 के बाद से पूरे जोश और समर्पण के साथ अपने सामने आनी वाली सभी समस्याओं का डटकर मुकाबला किया और आज हमें इस मुकाम तक पहुंचाया है। होण्डा के लिए यह गर्व का समय है और आने वाले समय में भी हम जीत के लिए मुकाबला करते रहेंगे। हमें उम्मीद है कि आप सभी से हमें इसी तरह सहयोग एवं समर्थन मिलता रहेगा।"

--आईएएनएस

जेएनएस