Print this page

26/11 : मुंबई ने शहीदों, मृतजनों को आंसुओं के साथ किया याद
Thursday, 26 November 2020 19:25

मुंबई: मुंबई में 26 नवंबर, 2008 को हुए आतंकवादी हमले के 12 साल हो चुके हैं। हमले की बरसी के अवसर पर मुंबई ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी और अन्य मृतजनों के प्रति सम्मान प्रकट किया, जिन्होंने 10 पाकिस्तानी आतंकवादियों को शहर को तबाह करने से रोकने का साहस दिखाया था। महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दक्षिणी मुंबई में क्रॉफोर्ड मार्केट के पास मुंबई पुलिस आयुक्तालय परिसर में नए शहीद स्मारक पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी।

अन्य गणमान्य लोगों में गृहमंत्री अनिल देशमुख, पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे, मुख्य सचिव संजय कुमार, पुलिस महानिदेशक सुबोध जायसवाल, मुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह और अन्य अधिकारी शामिल थे।

दक्षिणी मुंबई में प्रमुख स्थानों पर किए गए आतंकी हमलों में शहीद हुए अपने सहयोगियों को भी बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों ने श्रद्धांजलि अर्पित की। वहीं तुकाराम जी. ओम्बले को भी खास तौर पर श्रद्धांजलि दी गई, जिन्होंने एकमात्र जीवित आतंकवादी अजमल अमीर कसाब को अपने जीवन का बलिदान देकर 27 नवंबर, 2008 को पकड़ा था।

इसके बाद शहीदों और कई वीरों के रिश्तेदारों ने भी अपने दिवंगत परिजनों को श्रद्धांजलि अर्पित की, साथ ही राज्यपाल, मुख्यमंत्री और अन्य शीर्ष अधिकारियों ने उनका हाथ जोड़कर अभिवादन किया।

विधवाओं, माताओं, बेटों, बेटियों, भाइयों या बहनों सहित रिश्तेदारों ने स्मारक पर करीबी और प्रियजनों को फूलों के साथ श्रद्धांजलि अर्पित की।

छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस, होटल ताज महल पैलेस, होटल ओबेरॉय, चाबाड हाउस, कामा अस्पताल और लियोपोल्ड कैफे में भी स्मरण समारोह आयोजित किए गए थे। इन सभी स्थलों पर हमलावरों ने क्रूरतापूर्ण गोलियां बरसाई थीं, जिसमें कुल 166 लोग मारे गए थे और 300 से अधिक घायल हो गए थे।

टाटा ट्रस्ट्स के चेयरमैन रतन टाटा ने ट्वीट किया, "आज से 12 साल पहले हुआ प्रचंड विनाश को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा ..।"

पारंपरिक माध्यम और सोशल मीडिया पर कई स्मरण विज्ञापन दिखाई दिए, जिसमें सुरक्षा बलों द्वारा आतंकवादियों पर जीत हासिल करने से पहले दुनिया को हिलाकर रख देने वाले 60 घंटों में मारे गए लोगों और सुरक्षा बलों को श्रद्धांजलि देते हुए दिखाया गया।

इन 12 वर्षो में पहली बार स्मारक समारोह का आयोजन मुंबई पुलिस आयुक्तालय परिसर में हाल ही में बने नए शहीद स्मारक में किया गया था।

--आईएएनएस

एमएनएस/एसजीके