92 प्रतिशत भारतीय संगीत पर आश्रित : सर्वे
Friday, 19 June 2020 17:27

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: एक सर्वे के अनुसार नब्बे प्रतिशत भारतीयों का कहना है कि वे अपने जीवन के कठिन दौर को काटने के लिए संगीत पर निर्भर हैं, जबकि 87 प्रतिशत लोगों का मानना है कि वे अपनी पसंदीदा धुनों को सुनते हुए अधिक प्रोडक्टिव हैं।

आगामी 21 जून को विश्व संगीत दिवस के अवसर पर वनपॉल के साथ साझेदारी में हरमन ने पूरे भारत में 2,000 प्रतिभागियों के साथ एक सर्वेक्षण किया, ताकि यह समझा जा सके कि हमारे जीवन में संगीत कितना महत्वपूर्ण है, खासकर प्रचलित समय के दौरान।

सर्वेक्षण में यह खुलासा हुआ है कि संगीत ने महामारी के दौरान उनके मूड को बेहतर बनाया है। वहीं सभी लोगों में से 90 प्रतिशत ने कहा कि चल रहे कोविड-19 महामारी के दौरान संगीत ने उन्हें सेल्फ आइसोलेशन के वक्त मदद की है। सर्वेक्षण में खुलासा हुआ है कि वर्तमान समय में भारतीय प्रतिदिन औसतन 45 मिनट अतिरिक्त संगीत सुन रहे हैं।

करीब 71.7 प्रतिशत भारतीयों ने खास सेल्फ आइसोलेशन प्लेलिस्ट बनाई है, जिसमें वे ट्रैक शामिल हैं जो उन्हें ध्यान लगाने या उनके मन पर सुखदायक, शांत प्रभाव डालते हैं। वहीं 84.73 फीसदी भारतीय महिलाएं और 80 फीसदी पुरुष कहते हैं कि संगीत तनाव खत्म करने का बड़ा जरिया है।

सर्वेक्षण में शामिल 64 फीसदी भारतीयों का मानना था कि संगीत उन्हें बेहतर नींद में मदद करता है, जबकि 71 प्रतिशत कहते हैं कि यह कसरत के दौरान सबसे अच्छा प्रेरक है। वहीं 79.70 प्रतिशत भारतीय अपने उदास मन को ठीक करने के लिए संगीत का सहारा लेते हैं तो 47 प्रतिशत दोस्तों के साथ बात करते हैं।

--आईएएनएस

 

 

 

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.