Print this page

घाटी और लद्दाख में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे दर्ज हुआ
Wednesday, 02 December 2020 13:55

श्रीनगर: कश्मीर में बुधवार को रात के दौरान तापमान हिमांक से नीचे दर्ज किया गया। वहीं मौसम विभाग ने जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख में शनिवार तक शुष्क और ठंडे मौसम का अनुमान लगाया है। सुबह की कड़ाके की ठंड ने बुधवार को ज्यादातर कश्मीरियों को घर के अंदर रहने पर मजबूर कर दिया। वहीं बादलों के बीच निकले सूरज की हल्की किरणों के बीच लोगों ने अपना काम शुरू किया।

कश्मीर में 'चिल्लई कलां' नामक कड़ाके की ठंड की 40 दिनों की लंबी अवधि 21 दिसंबर से शुरू होती है और 31 जनवरी को समाप्त होती है।

इस अवधि के दौरान भारी बर्फबारी के कारण घाटी के लगभग सभी बड़े और छोटे जलस्रोत जम जाते हैं और कश्मीर के बारहमासी जल जलाशय भर जाते हैं।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि दोनों ही केंद्र शासित प्रदेशों में न्यूनतम तापमान हिमांक से नीचे दर्ज किया गया। अधिकारी ने कहा, "शुष्क और ठंडे मौसम की स्थिति 5 दिसंबर तक जारी रहने की संभावना है। 6 दिसंबर से जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख, दोनों ही केंद्र शासित प्रदेशों में बारिश और हिमपात की संभावना है।"

श्रीनगर में शून्य से 1.0, पहलगाम में शून्य से 2.3 और गुलमर्ग में शून्य से 1.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। लद्दाख के लेह शहर में रात का न्यूनतम तापमान शून्य से 7 और कारगिल में शून्य से 4.3 डिग्री नीचे दर्ज किया गया।

वहीं जम्मू शहर का न्यूनतम तापमान 9.7, कटरा 10.7, बटोट 7.1, बनिहाल 3.6 और भद्रवाह का तापमान 3.7 दर्ज किया गया।

--आईएएनएस