अब्दुल्ला-मुफ्ती परिवार ने विलासिता के लिए लोकतंत्र को कमजोर किया : अनुराग ठाकुर
Tuesday, 01 December 2020 08:55

  • Print
  • Email

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर डीडीसी चुनावों के प्रभारी व केंद्रीय वित्त एवं कॉर्पोरेट मामलों के राज्यमंत्री ने यहां सोमवार को कहा कि गुपकार गठबंधन में शामिल अब्दुल्ला-मु़फ्ती परिवार ने अपनी विलासिता को बरकरार रखने के लिए राज्य में लोकतंत्र को कमजोर किया और युवाओं को गुमराह कर उनका भविष्य अंधकारमय कर दिया। ठाकुर ने कहा, "जम्मू-कश्मीर आज देश का सबसे खुशहाल प्रदेश होता, मगर मु़फ्ती-अब्दुल्ला परिवार ने अपनी विलासिता को बनाए रखने के लिए प्रदेश के हितों को ताक पर रख यहां लोकतंत्र को कमजोर किया है। गुपकारों ने बहुत ही सिस्टमैटिक तरीके से सिस्टम के साथ मिलकर जम्मू-कश्मीर को लूटा है। अब्दुल्ला-मु़फ्ती परिवार ने अपनी शानो-शौकत बरकरार रखने के लिए जम्मू-कश्मीर के युवाओं को गुमराह किया। उनके नेतृत्व को ब्लॉक किया, उनके हाथों में पत्थर, बंदूक पकड़ाई, उन्हें राजनीति में आने से रोका व उनके भविष्य को अंधकार में धकेला है।"

केंद्रीय मंत्री ने कहा, "मु़फ्ती-अब्दुल्ला परिवार के साथ-साथ कांग्रेस भी उनके इस पाप में बराबर की साझेदार है। जो युवा राजनीति में आकर प्रदेश की तकदीर बदल सकते थे, चीन-पाकिस्तान के इशारों पर चलने वाले इन गुपकारों ने उनके हाथों में पत्थर, बंदूकें पकड़ा कर उन्हें सिर्फ अपनी राजनैतिक रोटियां सेंकने का माध्यम बनाया"

अनुराग ठाकुर ने आगे कहा, "भारतीय जनता पार्टी का लोकतंत्र और उसमें लोगों की भागीदारी के प्रति गहरी आस्था है। हमने यहां से 370 व 35ए भी हटाया, वर्षो से हाशिए पर बैठे लोगों को वोटिंग करने और चुनाव लड़ने का अधिकार भी दिया। इन डीडीसी चुनावों के माध्यम से जम्मू-कश्मीर के लोगों को लोकतांत्रिक तरीके से विकास का भागीदार बनने का अवसर मोदी सरकार ने दिया है, वरना दशकों से जम्मू-कश्मीर में सुख भोग रहे अब्दुल्ला-मु़फ्ती परिवारों ने अपने बेटे-बेटियों को ही आगे बढ़ाने का काम किया है। सड़क, पानी और सुरक्षा यहां की बुनियादी जरूरत थी, मगर इन गुपकारों ने अपने आलीशान महल खड़े किए। सारी सरकारी सुविधाओं का दुरुपयोग किया और आम जनता को उनके बुरे हाल पर छोड़ दिया। मगर अब जम्मू-कश्मीर की जनता इनके झांसे में नहीं आएगी और इन डीडीसी चुनावों में गुपकारों को उनके अत्याचारों के लिए सबक सिखाएगी।"

--आईएएनएस

एसजीके

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss