गलती से सीमा पार कर भारत मे घुस आया पाकिस्तानी
Friday, 03 March 2017 20:54

  • Print
  • Email

सीमा सुरक्षा बल ने शुक्रवार (3 मार्च) को एक बुजुर्ग पाकिस्तानी नागरिक को वापस उसके देश भेज दिया जो गलती से भारतीय सीमा में घुस आया था। सीमा सुरक्षा बल के एक अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तानी नागरिक गुरुवार (2 मार्च) को अरनिया सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पार कर इस तरफ आ गया था। उसे जम्मू जिले में शुक्रवार (3 मार्च) को अंतरराष्ट्रीय सीमा की सीमा चौकी पर पाकिस्तानी रेंजरों को सौंप दिया गया। अधिकारी ने कहा, ‘बीएसएफ जवानों ने आज (शुक्रवार, 3 मार्च) सुबह साढ़े नौ बजे अंतरराष्ट्रीय सीमा की पिट्टल सीमा चौकी पर एक पाकिस्तानी नागरिक को पाक रेंजर्स का सौंप दिया।’ शुरुआती जांच में उसने अपना नाम शाहनवाज बताया। वो पाकिस्तान के सियालकोट जिले के मनकोट गांव का रहने वाला है। उन्होंने कहा, ‘वो शख्स काफी कमजोर था और ऐसा लग रहा था कि वह भूलवश सीमा पार आ गया।’

श्रीनगर के कुछ हिस्सों में झड़प, छह लोग घायल

पुराने श्रीनगर शहर के कुछ हिस्सों में शुक्रवार (3 मार्च) को पथराव कर रही भीड़ और सुरक्षाबलों के बीच झड़प हुई जिसमें छह लोग घायल हो गए। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि ऐतिहासिक जामा मस्जिद में जुमे की नमाज के बाद युवाओं के एक समूह ने नौहट्टा इलाके में नारेबाजी शुरू कर दी और मार्च निकालने की कोशिश की। अधिकारी ने कहा कि वहां कानून व्यवस्था ड्यूटी पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने युवकों को वहां से चले जाने को कहा लेकिन प्रदर्शनकारियों ने उनकी बातों पर ध्यान नहीं दिया तथा उन पर पथराव शुरू कर दिया। उन्होंने कहा कि हिंसक भीड़ को तितर बितर करने के लिए सुरक्षाबलों ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े।

अधिकारी के अनुसार पुराने शहर के राजौरी कदल और परीमपुरा इलाकों के साथ ही उत्तरी कश्मीर में बारामूला जिले के सोपोर शहर से भी झड़पों की खबरें हैं। उन्होंने बताया कि इस झड़पों में छह लोग घायल हो गए। पुलवामा जिले के द्रबगाम में युवकों के एक समूह ने सुरक्षा बलों पर उस समय पथराव किया जब वे इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में सूचना मिलने पर तलाशी अभियान चला रहे थे। उन्होंने बताया कि पुलिस के एक दल ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ दिया और आतंकवादियों के खिलाफ अभियान जारी रहा।

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss