फेसबुक ने कांग्रेस के पत्रों का दिया जवाब
Friday, 04 September 2020 09:43

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: संसदीय समिति द्वारा फेसबुक इंडिया के प्रमुख अजित मोहन से पूछताछ किए जाने के एक दिन बाद, सोशल मीडिया दिग्गज ने फेसबुक इंडिया के कर्मचारियों द्वारा कथित रूप से सामग्री में हेरफेर से संबंधित मुद्दों पर कांग्रेस द्वारा लिखे गए पत्रों का जवाब दिया है।

एआईसीसी डेटा एनालिटिक्स विभाग के अध्यक्ष प्रवीण चक्रवर्ती द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है, "फेसबुक ने मीडिया आर्टिकल्स में फेसबुक इंडिया लीडरशिप टीम के व्यक्तियों पर लगाए गए किसी भी आरोप का खंडन नहीं करते हुए इसकी गंभीरता को स्वीकार किया है।"

चक्रवर्ती ने कहा, "उन्होंने गैर-पक्षपाती होने और इन मामलों पर कांग्रेस पार्टी के साथ जुड़े रहने की इच्छा भी व्यक्त की है।"

पार्टी ने कहा कि वह फेसबुक के वैश्विक नेतृत्व और फेसबुक और व्हाट्सएप इंडिया में किए जा रहे विशिष्ट सुधारात्मक उपायों के प्रदर्शन से आगे की ठोस कार्रवाई का इंतजार करेगी।

कांग्रेस पार्टी ने 18 अगस्त को फेसबुक इंक को एक पत्र लिखकर चिंता व्यक्त की थी और उनसे इस मुद्दे को स्वीकार करने और सुधारात्मक कार्रवाई करने के लिए कहा था। कांग्रेस ने एक विदेशी कंपनी द्वारा भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने का दावा भी किया था।

दरअसल, कांग्रेस महासचिव के.सी. वेणुगोपाल ने फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग को चिट्ठी लिखी थी। इसमें वॉल स्ट्रीट जर्नल के आलेख का जिक्र किया गया था। वेणुगोपाल ने कहा कि फेसबुक इंडिया की अधिकारी अंखी दास ने चुनाव संबंधी कार्यो में भाजपा को मदद पहुंचाई थी। ऐसे में कांग्रेस फेसबुक इंडिया ऑपरेशन की जांच की मांग करती है।

वेणुगोपाल ने कहा था कि इस मामले की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए और इसकी रिपोर्ट सबके सामने आनी चाहिए। उन्होंने कहा था कि तब तक फेसबुक अपनी इंडिया शाखा के लिए एक नई टीम गठित करे।

वेणुगोपाल ने फेसबुक के संस्थापक को लिखे पत्र में इस मामले का हवाला दिया था और कहा था कि इससे कांग्रेस को बहुत निराशा हुई है। उन्होंने जकरबर्ग को सुझाव दिया कि फेसबुक मुख्यालय की तरफ से उच्चस्तरीय जांच शुरू की जाए और एक या दो महीने के भीतर इसे पूरा कर जांच रिपोर्ट कंपनी के बोर्ड को सौंपी जाए। इस रिपोर्ट को सार्वजनिक भी किया जाए।

वेणुगोपाल ने यह आग्रह भी किया था कि जांच पूरी होने और रिपोर्ट सौंपे जाने तक फेसबुक की भारतीय शाखा के संचालन की जिम्मेदारी नई टीम को सौपी जाएं, ताकि जांच की प्रक्रिया प्रभावित नहीं हो।

इसके साथ ही कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी फेसबुक और व्हाट्सएप के साथ सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांठगांठ का आरोप लगाया है।

--आईएएनएस

एकेके/एसजीके

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss