गुरुग्राम के प्लाज्मा बैंक को नहीं मिल रहे प्लाज्मा डोनर
Saturday, 24 October 2020 17:16

  • Print
  • Email

गुरुग्राम: गुरुग्राम के स्वास्थ्य विभाग ने 15 अगस्त को कोविड -19 रोगियों के लिए समर्पित पहला प्लाज्मा बैंक शुरू किया है, लेकिन इसे डोनर ही नहीं मिल रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, कोरोना से उबर चुके 24,010 लोगों में से केवल 338 लोग ही प्लाज्मा दान करने के लिए आगे आए हैं। इनमें से भी 202 लोग ही प्लाज्मा दान करने के लिए फिट पाए गए।

गुरुग्राम के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) वीरेंद्र यादव ने कहा, "रोटरी ब्लड बैंक में लगभग 401 यूनिट प्लाज्मा 202 मरीजों से मिला है, जिसमें से 397 यूनिट प्लाज्मा कोविड मरीजों के इलाज के लिए दिया जा चुका है।"

उन्होंने कहा कि प्लाज्मा दान करने के लिए जागरूकता फैलाने की जरूरत है। इसी बीच जिला प्रशासन ने दावा किया है कि जिले में मृत्यु दर 0.85 प्रतिशत से घटकर 0.78 प्रतिशत हो गई है और यहां रिकवरी दर 91.79 प्रतिशत है।

यादव ने कहा कि बुधवार से दूसरे दौर का सीरोलॉजिकल सर्वे भी शुरू कर दिया गया है, इसके तहत जिले भर में 850 परीक्षण किए जाएंगे।

यादव ने कहा, "प्लाज्मा दान करना एक व्यक्तिगत निर्णय है, लेकिन हम लोगों से प्लाज्मा दान के लिए आगे आने का आग्रह करते हैं। प्लाज्मा दान सुरक्षित है और यह किसी के जीवन को बचा सकता है।"

--आईएएनएस

एसडीजे/जेएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.