Print this page

असम : जेईई परीक्षा फर्जीवाड़ा मामले में एसआईटी गठित, 5 गिरफ्तार
Thursday, 29 October 2020 19:03

गुवाहाटी: असम पुलिस ने जेईई (मेंस) फर्जीवाड़ा मामले की जांच के लिए विशेष जांच टीम (एसआईटी) गठित किया है। इस फर्जीवाड़े के संबंध में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। दरअसल, इनलोगों ने परीक्षा में एक छात्र के बदले किसी अन्य छात्र (प्रॉक्सी) को बिठा दिया था, जिसने 99.8 प्रतिशत हासिल किए।

गुवाहाटी पुलिस आयुक्त एम.पी. गुप्ता ने कहा कि जेईई(मेंस) उम्मीदवार, उसके डॉक्टर पिता और तीन अन्य को सह साजिशकर्ता के रूप में बुधवार शाम को गिरफ्तार किया गया। कोर्ट के आदेश के बाद पुलिस ने गुरुवार को पूछताछ के लिए इनलोगों को अपनी कस्टडी में ले लिया।

गुप्ता ने फोन पर आईएएनएस को बताया, "वरिष्ट पुलिस अधिकारी की अगुवाई में एसआईटी पूरे घोटाले की जांच करेगी। हम इस मामले में अन्य लोगों की तलाश कर रहे हैं।"

पुलिस अधिकारी ने कहा, "उम्मीदवार ने कथित रूप से अपने एक दोस्त के साथ बातचीत में इस फर्जीवाड़े में अपनी संलिप्तता स्वीकार की थी, इस बातचीत को रिकॉर्ड कर लिया गया था।"

शिकायतकर्ता ने 23 अक्टूबर को दावा किया था कि 5 सितंबर को परीक्षा वाले दिन, उम्मीदवार गुवाहाटी में अपने बोरझार वाले केंद्र गया, लेकिन एक निरीक्षक और एक अन्य व्यक्ति की मदद से उसने बायोमेट्रिक अटेंडेंस और अन्य औपचारिकता पूरी की और परीक्षा हॉल से चला गया। फिर जब वास्तविक उम्मीदवार टेस्ट सेंटर से बाहर चला गया, उसके बदले उसका प्रॉक्सी कंप्यूटर आधारित परीक्षा में शामिल हुआ।

--आईएएनएस

आरएचए/एसजीके