असम भाजपा ने मुख्यमंत्री उम्मीदवार पर दिया बयान, सोनोवाल को सराहा
Monday, 24 August 2020 08:45

  • Print
  • Email

गुवाहाटी: असम भाजपा ने रविवार को कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई के इस दावे को खारिज कर दिया, जिसमें कहा गया था कि सुप्रीम कोर्ट के पूर्व प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हो सकते हैं, जबकि इसके बजाय मुख्यमंत्री की प्रशंसा करनी चाहिए थी। साल 2016 में भाजपा के सत्ता में आने से पहले 15 साल तक मुख्यमंत्री रहे तरुण गोगोई ने शनिवार को गुवाहाटी में मीडिया से कहा कि पूर्व सीजेआई आगामी चुनाव में भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हो सकते हैं। चुनाव अगले साल अप्रैल-मई में होने की संभावना है।

असम भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष रणजीत कुमार दास ने कहा, "कुछ लोग बहुत पुराने होने पर भी खोखले मामलों पर बोलते हैं। हम तरुण गोगोई के बयान को उस श्रेणी में रखना चाहेंगे।"

दास ने संवाददाताओं से कहा, "तरुण गोगोई ने मीडिया को जो बताया है, उसमें थोड़ी भी सच्चाई नहीं है।

असम भाजपा के प्रवक्ता दीवान ध्रुवज्योति मोरल ने कहा, "उनकी बातों पर प्रतिक्रिया देने का मतलब हवा में महल बनाने जैसा है।"

भाजपा नेता ने कहा, "भाजपा, मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के अलावा किसी और को नहीं देख रही है, उनकी साफ-सुथरी छवि है। राज्य के सभी आदिवासी, गैर-आदिवासियों और अन्य समूहों ने उन्हें स्वीकार्य किया है।"

तरुण गोगोई असम विधानसभा में टिटबोर सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं। उन्होंने शनिवार को कहा कि वह अगला चुनाव लड़ेंगे, लेकिन न तो वह और न ही उनके सांसद बेटे गौरव कांग्रेस के संभावित सीएम उम्मीदवार होंगे।

कांग्रेस और ऑल इंडिया युनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (एआईयूडीएफ) के प्रमुख इत्र व्यापारी बदरुद्दीन अजमल ने आगामी चुनाव के लिए हाल ही में सत्ताधारी पार्टी के खिलाफ गठबंधन किया है।

--आईएएनएस

एवाईवी/एसजीके

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.